इतिहास - प्राचीन भारत - 02

प्रागैतिहासिक काल

जिस काल में मनुष्य ने घटनाओ का कोई लिखित  विवरण उध्दृत नही किया, उसे 'प्रागैतिहासिक काल' कहते है मानव विकास के काल को इतिहास कहा जाता है, जिसका विवरण लिखित रूप में है  



'आद्य ऐतिहासिक काल' उस काल को कहते है जिस काल में लेखन - कला के प्रचलन के बाद उपलब्ध लेख पढ़े नही जा सके है  

'ज्ञानी मानव' (होमोसेपियंस) का प्रवेश इस धरती पर आज से लगभग तीस या चालीस हजार वर्ष पूर्व हुआ 

'पूर्व - पाषाण युग' या पूरा - पाषाणकाल के मानव की जीविका का मुख्य आधार शिकार था - शिकार पूरा पाषाणकाल में आदि मानव के मनोरंजन के भी साधन थे 

आग का अविष्कार पुरा - पाषाणकाल में एवं पहिये का नव - पाषाणकाल में हुआ 

मनुष्य में स्थायी निवास की प्रव्रत्ति नव - पाषाणकाल में हुई तथा उनसे सबसे पहले कुत्ता को पालतू बनाया 

मनुष्य ने सर्वप्रथम तांबा धातु का प्रयोग किया तथा उसके व्दारा बनाया जानेवाला प्रथम औजार कुल्हाड़ी (प्राप्ति स्थल - अतिरम्पक्क्म) था